NDTV-Dettol Banega Swasth Swachh India NDTV-Dettol Banega Swasth Swachh India
  • Home/
  • ताज़ातरीन ख़बरें/
  • अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से कुछ दिन पहले ही शुरू हुआ समारोह, संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी पीएम मोदी के साथ योग करने के लिए हैं उत्सुक

ताज़ातरीन ख़बरें

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से कुछ दिन पहले ही शुरू हुआ समारोह, संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी पीएम मोदी के साथ योग करने के लिए हैं उत्सुक

यूएसए के न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र (यूएन) मुख्यालय से योग दिवस समारोह का नेतृत्व करेंगे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी

Read In English
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से कुछ दिन पहले ही शुरू हुआ समारोह, संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी पीएम मोदी के साथ योग करने के लिए हैं उत्सुक
21 जून 2023 को मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की इस साल थीम "वसुधैव कुटुम्बकम के लिए योग" होगी

नई दिल्ली: हर साल 21 जून को मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की इस साल थीम “वसुधैव कुटुम्बकम के लिए योग” होगी. प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी यूएसए के न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र (यूएन) मुख्यालय से योग दिवस समारोह का नेतृत्व करेंगे. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 के राष्ट्रीय उत्सव का नेतृत्व भारत के उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ मध्य प्रदेश के जबलपुर में करेंगे. दिलचस्प बात यह है कि पीएम मोदी ने सबसे पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की स्थापना के लिए ड्राफ्ट प्रस्ताव पेश किया था. 2014 में जनरल असेंबली के 69वें सत्र के उद्घाटन के दौरान अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा,

योग हमारी प्राचीन परंपरा की अमूल्य देन है. योग मन और शरीर, विचार और क्रिया की एकता का प्रतीक है … यह एक समग्र दृष्टिकोण है, जो हमारे स्वास्थ्य और हमारी अच्छे के लिए मूल्यवान है. योग केवल व्यायाम के बारे में नहीं है; यह अपने आप में, दुनिया और प्रकृति के साथ एकता की भावना को खोजने का एक तरीका है.

शनिवार (17 जून) को कर्टन रेजर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए आयुष और पत्तन, पोत परिवहन एवं जलमार्ग के केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा,

जैसे-जैसे हम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के करीब आ रहे हैं वैसे-वैसे ही हम इस वर्ष मानवता के लिए भारत की समृद्ध विरासत के सबसे बड़े उपहारों में से एक योग के उत्सव को एक नए स्तर पर ले जा रहे हैं.

वार्षिक उत्सव के रूप में दुनिया को योग से परिचित कराने के लिए पीएम मोदी की तारीफ करते हुए केंद्रीय मंत्री सोनोवाल ने कहा,

हर साल 21 जून को ‘अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस’ मनाया जाएगा, इसकी शुरुआती 9 साल पहले संयुक्त राष्ट्र की तरफ से पीएम मोदी के अथक प्रयासों के बाद की गई थी, जहां उन्होंने जहां उन्होंने दुनिया के सदस्य देशों को सकारात्मक मन और शरीर के इस अद्भुत उत्सव में शामिल होने के लिए राजी किया था. जैसा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र से आईडीवाई के वैश्विक उत्सव का नेतृत्व करके इस वर्ष का योग दिवस मना रहे हैं, यह इस वर्ष के आदर्श वाक्य ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ के लिए एकदम सही श्रद्धांजलि है.

इसे भी पढ़ें: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023: राष्ट्रपति ने सभी से दैनिक जीवन में योग अपनाने का किया आग्रह

इस साल की थीम के बारे में आगे बात करते हुए, केंद्रीय मंत्री सोनोवाल ने कहा,

यह उपयुक्त रूप से हमारी आकांक्षा – ‘एक पृथ्वी एक परिवार एक भविष्य’ का वर्णन करता है. वसुधैव कुटुम्बकम प्राचीन काल से भारतीय विरासत के लिए मार्गदर्शक रहा है और हमारे लोकाचार व सामाजिक-सांस्कृतिक ताने-बाने इसके चारों ओर बुने गए हैं. मुझे पूरी उम्मीद है कि योग के अभ्यास के माध्यम से वैश्विक समुदाय अलग-अलग मौजूदा स्वास्थ्य चुनौतियों का समाधान खोजने में सक्षम होगा.

मंत्री सोनोवाल के मुताबिक, इस साल के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह के दौरान 25 करोड़ लोगों की भागीदारी की उम्मीद है.

योग महोत्सव

शनिवार (17 जून) को केंद्रीय विदेश और संस्कृति राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने लोटस टेंपल में राजनयिक कोर और अधिकारियों के लिए योग महोत्सव की मेजबानी की. सोशल मीडिया पर समारोह की तस्वीरें शेयर करते हुए मीनाक्षी लेखी ने लिखा, “G20 में कमल के रूप में भारत का लोगो (Logo) 7 समुद्रों और महाद्वीपों के एक साथ आने को दर्शाता है, हमारी सबसे प्रिय सांस्कृतिक विरासत के रूप में योग वैश्विक स्वास्थ्य और कल्याण के लिए दुनिया को एक उपहार है.”

राज्य मंत्री लेखी ने कहा,

योग का उद्देश्य हर चीज से ऊपर उठकर शांति और समृद्धि का संदेश फैलाना है.

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में 2-दिन बाकी

संयुक्त राष्ट्र की उप महासचिव और संयुक्त राष्ट्र सतत विकास समूह की अध्यक्ष अमीना जे. मोहम्मद ने आगामी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए अपने उत्साह को सोशल मीडिया पर शेयर किया. उन्होंने कहा कि वह अगले हफ्ते यूएनएचक्यू नॉर्थ लॉन में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के साथ नौवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह में भाग लेने के लिए उत्सुक हैं.

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 77वें सत्र के अध्यक्ष साबा कोरोसी ने भी इसी तरह की रुचि व्यक्त की थी.

भारत में संयुक्त राष्ट्र के रेजिडेंट कोऑर्डिनेटर शोम्बी शार्प ने 13 जून को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल 21 जून को न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र सचिवालय में योग सत्र की अगुवाई करेंगे.

इसे भी पढ़ें: “जो हमें एकजुट करता है, वही योग है,” पीएम मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023 पर लोगों को बधाई दी

योग सत्र 21 जून को सुबह 8 बजे से 9 बजे के बीच संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के विशाल नार्थ लॉन में आयोजित किया जाएगा, जहां पिछले साल दिसंबर में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की देश की अध्यक्षता के दौरान महात्मा गांधी की एक प्रतिमा स्थापित की गई थी. यह प्रतिमा भारत की ओर से संयुक्त राष्ट्र को तोहफे के रूप में दी गई थी.

संयुक्त राष्ट्र के डिपार्टमेंट ऑफ मैनेजमेंट स्ट्रेटेजी, पॉलिसी एंड कंप्लायंस ने एक ट्वीट में लोगों से 9वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह में शामिल होने का आग्रह किया और संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन द्वारा की गई पहल को “शानदार” बताया.

संयुक्त राष्ट्र योग को भारत में उत्पन्न हुए एक प्राचीन शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास के रूप में मान्यता देता है. ‘योग’ शब्द संस्कृत से निकला है और इसका अर्थ है जुड़ना या एकजुट होना, जो शरीर और चेतना के मिलन का प्रतीक है. आज यह दुनिया भर में अलग-अलग रूपों में प्रचलित है और इसकी लोकप्रियता में बढ़ोतरी होना जारी है.

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य पूरी दुनिया में योग के अभ्यास से होने वाले कई लाभों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है.

इसे भी पढ़ें: बेहतर स्वास्थ्य के लिए हर दिन अभ्यास करने योग्य 5 योग आसन 

Highlights: Banega Swasth India Launches Season 10

Reckitt’s Commitment To A Better Future

India’s Unsung Heroes

Women’s Health

हिंदी में पढ़ें

This website follows the DNPA Code of Ethics

© Copyright NDTV Convergence Limited 2024. All rights reserved.