Connect with us

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर मिलिए कुछ प्रेरक लड़कियों और महिलाओं से

Published On: January 19, 2022 | Duration: 0 MIN, 50 SEC
यूनिसेफ के अनुसार, भारत दुनिया का एकमात्र बड़ा देश है जहां बच्‍चों की तुलना में बच्चियों की मौत ज्‍यादा होती है. भारत में, बालिकाएं अक्सर असमानता और पितृसत्तात्मक भेदभाव के साथ कमजोर रह जाती हैं और उनका संघर्ष गर्भधारण के पहले ही दिन से शुरू हो जाता है. इस मुद्दे पर जागरूकता बढ़ाने की कोशिश में भारत हर साल 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाता है. इस राष्ट्रीय बालिका दिवस पर मिलिए कुछ प्रेरक बेटियों, माताओं और बहनों से. एनडीटीवी-डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया पर.
Click to comment

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.