Poem:

स्वच्छता स्वास्थ्य और पर्यावरण का ध्यान
जीवन का आज यही मंत्र है महान
सच ये है बहुत बड़ा ना भूलेंगे कभी
कह रही है ये जमीं और सारा आसमां

अपना ध्यान
मंत्र महान
देश रहेगा आयुषमान
दो हाथों की दूरी
इनको साफ रखना भी जरूरी
करना है जीवन का हमको सम्मान

अपना ध्यान
मंत्र महान
देश रहेगा आयुष्मान

आज है चुनौतियों को जीतना हमें
आगे बढ़ के आंधियों को रोकना हमें
स्वच्छता को साथ साथ ले के बढ़ें हम
जिंदगी को कोशिशों से स्वस्थ करें हम
एक नए आशा नए उम्मीद पाएं हम
मन से इस प्रकृति को सर झुकाएं हम

स्वच्छता स्वास्थ्य और पर्यावरण का ध्यान
जीवन का आज यही मंत्र है महान
सच ये है बहुत बड़ा ना भूलेंगे कभी
कह रही है ये जमीं और सारा आसमां

हाथ धुलेंगे
मास्क लगाएंगे
बनी रहेगी एक मुस्कान
अपना ध्यान
मंत्र महान
देश रहेगा आयुष्मान
दो हाथों की दूरी
इनको साथ रखना भी जरूरी
करना है जीवन का हमको सम्मान

अपना ध्यान
मंत्र महान
देश रहेगा आयुष्मान
दो हाथों की दूरी
इनको साफ रखना भी जरूरी
करना है जीवन का हमको सम्मान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

Women’s Day 2021: How The Collective Women Enterprises In Bihar Are Beating COVID Crisis

International Women's Day 2021: According to Siddharth Chaturvedi, Consultant at The World Bank, for every rupee earned by the woman of the household, 90 per cent is spent on the education, health, nutrition and general wellbeing of the family as against 30-40 per cent by a man