NDTV-Dettol Banega Swasth Swachh India NDTV-Dettol Banega Swasth Swachh India
  • Home/
  • ताज़ातरीन ख़बरें/
  • अंतरिम बजट 2024 की मुख्य बातें: सरकार ने स्वास्थ्य कर्मियों, महिलाओं और बाल स्वास्थ्य पर दिया ज्यादा ध्यान

ताज़ातरीन ख़बरें

अंतरिम बजट 2024 की मुख्य बातें: सरकार ने स्वास्थ्य कर्मियों, महिलाओं और बाल स्वास्थ्य पर दिया ज्यादा ध्यान

वित्त मंत्री ने मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़ाने से लेकर स्वास्थ्य कर्मियों का स्वास्थ्य बीमा बढ़ाने जैसी तमाम घोषणाएं कीं

Read In English
अंतरिम बजट 2024 की मुख्य बातें: सरकार ने स्वास्थ्य कर्मियों, महिलाओं और बाल स्वास्थ्य पर दिया ज्यादा ध्यान
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए अंतरिम बजट का अनावरण किया

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए अंतरिम केंद्रीय बजट का अनावरण किया. इस बजट सत्र में स्वास्थ्य सेवा यानी हेल्थकेयर सेक्टर को और बेहतर बनाने के लिए कई घोषणाएं की गईं. वित्त मंत्री ने मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़ाने से लेकर स्वास्थ्य कर्मियों को स्वास्थ्य बीमा देने तक तमाम घोषणाएं कीं.

इसे भी पढ़ें: भारत के ‘कॉर्बेवैक्स’ टीके को आपातकालीन उपयोग सूची में मिली जगह, विनिर्माता कंपनी ने दी जानकारी

स्वास्थ्य के लिए अंतरिम बजट 2024 की मुख्य बातों पर एक नजर:

  1. मातृ एवं शिशु देखभाल योजनाओं का एकीकरण: महिलाओं और बच्चों तक स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतर पहुंच सुनिश्चित करने के लिए मातृ एवं शिशु देखभाल की योजनाओं ((Maternal and Child Health Care Schemes) को एक व्यापक कार्यक्रम के तहत लाया जाएगा.
  2. न्यूट्रिशन डिलीवरी, अर्ली चाइल्डहुड केयर और डेवलपमेंट इंप्रूवमेंट के लिए ‘सक्षम आंगनवाड़ी’ और पोषण 2.0 के तहत आंगनवाड़ी केंद्रों के अपग्रेडेशन में तेजी लाई जाएगी.
  3. आयुष्मान भारत योजना: आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थकेयर कवरेज में सभी आशा वर्कर्स (मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता), आंगनवाड़ी वर्कर्स और हेल्पर्स को शामिल किया जाएगा.
  4. नए डिजाइन किए गए U-Win डिजिटल प्लेटफॉर्म (बच्चों और गर्भवती महिलाओं के लिए यूनिवर्सल इम्यूनाइजेशन प्रोग्राम को डिजिटल बनाने के लिए प्लेटफॉर्म) और मिशन इंद्रधनुष को पूरे देश में तेजी से लागू किया जाएगा.
  5. सर्वाइकल कैंसर वैक्सीनेशन: सरकार स्कूलों के माध्यम से 9 से 14 साल की उम्र की लड़कियों में सर्वाइकल कैंसर की रोकथाम के लिए टीकाकरण (HPV वैक्सीन) को प्रोत्साहित करेगी.
  6. केंद्र सरकार अलग-अलग विभागों के तहत मौजूदा हॉस्पिटल इंफ्रास्ट्रक्चर का इस्तेमाल करके ज्यादा मेडिकल कॉलेज सेटअप करेगी. इसके लिए संबंधित मुद्दों की जांच करने और उनसे जुड़ी सिफारिशों के लिए एक समिति का गठन किया जाएगा.

अंतरिम बजट 2024 में हेल्थ सेक्टर के लिए की गई घोषणाओं पर मेदांता मेडिसिटी के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. नरेश त्रेहान ने कहा,

आंगनवाड़ी, महिलाओं के स्वास्थ्य, सर्वाइकल कैंसर के खिलाफ युवा लड़कियों के वैक्सीनेशन पर बहुत जोर दिया गया है. ये सभी चीजें बहुत जरूरी हैं. लेकिन इससे भी खास बात यह है कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और आशा कार्यकर्ताओं के लिए आयुष्मान कवरेज की पेशकश करना एक बहुत बड़ा कदम है. मुझे लगता है कि यह बहुत अच्छी पहल है और हमारे फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का इससे मनोबल बढ़ेगा. मुझे लगता है कि कुल मिलाकर, मेडिकल एजुकेशन, मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़ाना और पैरामेडिकल कर्मियों के लिए अन्य सुविधाओं को लेकर जो घोषणाएं हई हैं वो बहुत शानदार हैं.’

इस भी पढ़े: “घबराएं नहीं, सतर्क रहें”: नए कोरोना वेरिएंट से निपटने के लिए ऐसी है देश की तैयारी

Highlights: Banega Swasth India Launches Season 10

Reckitt’s Commitment To A Better Future

India’s Unsung Heroes

Women’s Health

हिंदी में पढ़ें

This website follows the DNPA Code of Ethics

© Copyright NDTV Convergence Limited 2024. All rights reserved.