Connect with us

खुद की देखभाल

मलाइका अरोड़ा की सलाह, बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है योग

मलाइका अरोड़ा ने दी योगासन की सलाह, बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए करना चाहिए योगासन

Read In English
Yoga For Better Mental Health, Malaika Arora Shows How
एक्‍ट्रेस और योगी मलाइका अरोड़ा ने बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए योगासन की सलाह दी

नई दिल्ली: अभिनेत्री मलाइका अरोड़ा एक टफ फिटनेस रिजिम के लिए जानी जाती हैं और वह नियमित रूप से सोशल मीडिया पर फैंस के साथ अपने फिटनेस रूटीन के टिप्स अपडेट साझा करती रहती हैं. हाल ही में, योग की शक्ति की पुरजोर सिफारिश करने वाली एक्‍ट्रेस ने फैंस को योगा मैट तैयार करने और मैंटल हेल्‍थ पर कंट्रोल रखने के लिए प्रेरित करने के लिए अपने सोशल मीडिया पर कई योग आसन साझा किए. मलाइका अरोड़ा द्वारा साझा किया गया वीडियो बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए तीन आसनों पर केंद्रित है – अधो मुख संवासन या डाउनवर्ड डॉग पोज़, बालासन या चाइल्ड पोज़ और सुखासन. शॉर्ट वीडियो में एक्‍ट्रेस तीनों आसन करते नजर आ रही हैं. वीडियो पोस्ट करते हुए उन्होंने कहा, ‘चलो मांइड का रूख करते हैं. शारीरिक स्वास्थ्य की तरह मानसिक स्वास्थ्य पर भी उतना ही ध्यान देने की जरूरत है. मैं इन तीन आसनों को करने की सलाह देती हूं जिनका नियमित रूप से अभ्यास हमारे मानसिक स्वास्थ्य की देखभाल के लिए किया जा सकता है.”

इसे भी पढ़ें: महिलाओं के लिए सेल्‍फ केयर, लिंग रूढ़िवादिता और सामाजिक परिवर्तन पर सोशल वर्कर डॉ. मल्लिका साराभाई की राय


मलाइका अरोड़ा द्वारा परफॉर्मड तीन आसनों पर एक नजर:

अधो मुख संवासन या डाउनवर्ड डॉग पोज़: यह एक आसन योग की सबसे व्यापक रूप से मान्यता प्राप्त मुद्रा है, यह पूरे शरीर को खिंचाव देते हुए, कोर को मजबूत करने और शरीर में ब्‍लड सर्कुलेशन में सुधार करने में मदद करता है. यह तनाव और चिंता को दूर करने के लिए भी जाना जाता है.

इस आसन को कैसे करें: सांस खींचते हुए अपने पैरों और हाथों के बल शरीर को उठाएं. सांस छोड़ते पर, अपने पैरों को सीधा करते हुए अपने हिप्‍स को ऊपर और पीछे धकेलें.

इसे भी पढ़ें: मातृत्व का दबाव महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है: एक्‍स्‍पर्ट

बालासन या बाल मुद्रा: यह आसन छाती में तनाव को दूर करने के लिए जाना जाता है, बेहतर नींद को बढ़ावा देता है, पीठ और रीढ़ को आराम देता है, और कंधों और हाथों में महसूस किए गए तनाव को कम करता है.

इस आसन को कैसे करें: अपने घुटनों को हिप-चौड़ाई से अलग रखें और सांस लें. अब आगे की ओर झुकें और सांस छोड़ते हुए अपने धड़ को अपनी जांघों के बीच रखें और अपने हाथों को आगे की ओर झुकाएं.

सुखासन: सुखासन योग एक साधारण क्रॉस-लेग्ड आसन है, जिसे कभी-कभी ध्यान के लिए उपयोग किया जाता है. यह मन और शरीर को आराम देने के लिए जाना जाता है, यही तनाव और चिंता को कम करता है. विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि यह आसन फोकस को बेहतर बनाने में मदद करता है और व्यक्ति को चौकस बनाता है, पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करता है, पूरे शरीर की मुद्रा में सुधार करता है और रीढ़ और पीठ की मांसपेशियों को लंबा करता है.

इस आसन को कैसे करें: अपने पेल्विस के साथ तटस्थ स्थिति में बैठें. सांस भरते हुए अपने कंधों को अपने कानों तक ले जाएं और सांस छोड़ते हुए अपने कंधों को अपनी पीठ के नीचे ले जाएं.

इसे भी पढ़ें: प्रसवोत्तर अवसाद क्या है और नई माताएं इस स्थिति पर कैसे काबू पा सकती हैं?

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Folk Music For A Swasth India

RajasthanDay” src=

Reckitt’s Commitment To A Better Future

Expert Blog

हिंदी में पड़े

More हिंदी में पड़े

Latest Posts